Artificial Intelligence(AI) Problems और Solution

Artificial Intelligence(AI) एक ऐसी टेक्नोलॉजी जिस पर दुनिया की हर टेक्नोलॉजी Based कंपनी की नज़र है। Ai के को अपने Business के साथ Integrate कर के हर कंपनी एक अच्छी revenue बना सकती है। इस Technology को अपनाना और Integrate करना कुछ समय बाद बेहद जरुरी हो जायेगा क्योकि तब ही आप अपने कंपनी को बढ़िया तरीके से चला सकते है। लेकिन एक रिपोर्ट के अनुसार 94% कंपनी को Ai को implementing करते टाइम Problem Face करनी पड़ती है। तो आज के इस लेख में Artificial Intelligence(Ai) के Problem और Solution दोनों के बारे में बात करेंगे।

Ai के Problem के बारे में Discuss करने से पहले मै यह उम्मीद करता हूँ। आप Artificial Intelligence(AI) क्या है?इस बारे में जानते होंगे अगर आप Ai किसे कहते है? इन सब के बारे में नहीं जानते है तो आप हमारा Ai पर Based यह आर्टिकल पढ़े 👉 AI Kya hai? अब जब आप इसको अच्छे से समझ गए है तो आइये अब देखते है। इसको अपने System में Integrate करते समय क्या क्या दिक्कत हो सकती है?

AI Technology को अपनाने से पहले Consumer और Developer दोनों को यह पता होना चाहिए को, हमें Ai को अपनाने से इस से जुड़ी खूबियों और चुनौतियों दोनों क्या क्या है। किसी भी तकनीक की इन बारीकियों को जानने के बाद, Customer और डेवलपर को तकनीक से जुड़े जोखिमों को कम करने के साथ-साथ इसका पूरा फायदा उठाने में मदद मिलती है।

यह भी जानना बहुत महत्वपूर्ण है कि एक डेवलपर को वास्तविक दुनिया में Ai Issue को कैसे Solve करना चाहिए। Ai Technology को मित्र के रूप में लेना चाहिए न कि दुश्मन के रूप में। तब ही हम इसको अच्छे से जान पाएंगे।


Artificial Intelligence - AI Problems और Solution कौन कौन है?

Computing Power - Machine Learning और Deep Learning Ai के पहला कदम है और ये दोनों अच्छे से काम करने के लिए Cores और GPUs की Demand करते है। इन Processors को अपने कंप्यूटर में लगाना और ऐसा Infrastructure तैयार करने के लिए अधिक खर्च करना पड़ेगा जो की एक Problem है। इसका Solution है Cloud Computing क्योकि ये काफी सस्ता है इसके लिए हमें कोई Infrastructure की जरुरत नहीं होती।

Lack of technical knowledge - Ai Application किसी Organization में Deploy और Integrate करने से पहले Current Ai Technology के बारे में जानकारी होनी बहुत जरुरी है। Technical Knowledge की कमी से ही ज्यादातर Organization को Niche Domain Adoption में दिक्कत आती है। मात्र 6% ही अभी के समय में कंपनी है जो सही से AI Technlogies को अडॉप्ट कर सकी है।

Data Privacy and Security - Ai में Data Privacy और इसकी Security एक बेहद गंभीर मुद्दा है क्योकि Ai में जो Deep और Machine Learning model है वह पूरी तरह Data पर आधारित है जिस से वह सिखता है, हां डाटा और यह डाटा Generate होता है millions of User से जो की दुनिया भर से होता है। और यह भी Chance बनता है की इन्ही डाटा कही गलत काम के लिए इस्तेमाल न हो।
उदाहरण के लिए, मान लें कि एक Medical सेवा प्रदाता है जो एक शहर में 1 मिलियन लोगों को सेवाएं प्रदान करता है, और एक साइबर हमले के कारण, सभी दस लाख उपयोगकर्ताओं के व्यक्तिगत डेटा Dark Web पर Leak हो गया। इस डेटा में बीमारियों, स्वास्थ्य समस्याओं, चिकित्सा इतिहास और बहुत कुछ के बारे में डेटा शामिल है। तो यह गलत काम के लिए इस्तेमाल हो सकती है।

The price factor - छोटे और मध्यम के जितने organization या कंपनी है उनको जब Ai तकनीकों को अपनाने की बात आता है तो सबसे बड़ा दिक्कत इनका कीमत का ही आता है क्योंकि यह एक महंगा तकनीक है। यहां तक कि Facebook, Apple, Microsoft, Google, Amazon (FAMGA) जैसी बड़ी कंपनी ने AI तकनीकों को अपनाने और लागू करने के लिए एक अलग separate budget बना रखे है।

Data acquisition and storage - Artificial Intelligence में सबसे बड़ी समस्याओं में से एक डेटा अधिग्रहण और इसका Storage का है। AI सिस्टम अपने इनपुट के रूप में सेंसर डेटा पर निर्भर करता है। एआई के सत्यापन के लिए, सेंसर डेटा का एक भंडार एकत्र किया जाता है।

 

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post