HDD Aur SDD में कौन अच्छा होता है ?

नमस्कार दोस्तों आज के इस लेख में हम जाने वाले हैं HDD और SSD क्या है और कौन सा अच्छा है? इस से जुड़ी हर एक वो बात आपको जानना ही चाहिए अगर आप एक कंप्यूटर यूजर या कंप्यूटर के बारे में थोड़ी दिलचस्पी रखते हैं तो आइए जानते हैं विस्तार से इसके बारे में हर एक वह चीज जो आपको जानना ही चाहिए।

HDD OR SDD Which Is Better For You - हार्ड डिस्क ड्राइव और सॉलिड स्टेट ड्राइव कौन अच्छा है ?

आज के टाइम आधुनिक युग का टाइम है आज हर एक क्षेत्र में कंप्यूटर का इस्तेमाल होता है, कंप्यूटर में बहुत से डिवाइस लगे रहते हैं जो कि कंप्यूटर को स्मार्ट और तेज बनाते हैं। कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण अंग होता है जिसको सेकेंडरी स्टोरेज कहा जाता है।

Image source - wikipedia 
सेकेंडरी स्टोरेज कंप्यूटर का वह भाग होता है जहां सारा डाटा Save रहता है यह कंप्यूटर का महत्वपूर्ण हिस्सा होता है या जरूरी हिस्सा बोल सकते हैं। HDD और SSD भी हमारे कंप्यूटर के लिए सेकेंडरी स्टोरेज है इसमें भी हमारे जरूरी के सारे डाटा सेव रहते हैं।


SSD/HDD का Full Form क्या होता है और यह क्या है?

  • HDD - HARD DISK DRIVE
  • SSD - SOLID STATE DRIVE
यह दोनों कंप्यूटर का स्टोरेज डिवाइस है इसमें ही हमारे सारा डाटा सुरक्षित रहते हैं।

चुकी यह दोनों कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण अंग है तो यह जानना जरूरी है कि इन दोनों में से कौन सा अच्छा होगा हमारे कंप्यूटर या लैपटॉप के लिए आइए बारी-बारी से दोनों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

HARD DISK DRIVE (HDD) क्या है और इसकी बनावट कैसी है ?

यह एक Electro-Mechanical Data Storage Device है। इसको पहली बार IBM Company ने 1956 में बनाया था। यह एक Non-Volatile स्टोरेज डिवाइस है। इसका मतलब यह है कि यदि कंप्युटर में पॉवर देना बन्द कर दे फिर भी इसमें सारा डाटा सुरक्षित रहता है।

यह डिवाइस डाटा स्टोर करने के लिए एक या एक से ज्यादा मैग्नेट से बने प्लेट का इस्तेमाल करता है फ्लैट से डाटा read/write के लिए इसमें Head लगा होता है।

दरअसल इसका काम करने का तरीका कुछ इस तरह है इसमें लगे मैग्नेट प्लेट जो काफी तेजी से मोटर के सहायता से घूमते हैं और इसमें लगा हेड इसमें से डाटा Read और Write करता है प्लेट के घूमने की क्षमता को RPM (REVOLUTION PER MINUTES) में मापते हैं।
Image source - wikipedia 

HDD Hard Disk Drive Speed in Hindi - इसकी कितनी स्पीड होता है?

HDD में लगे प्लेट्स Basically 5400RPM या 7200RPM से घूमता है। कुछ बढ़िया कंपनी 15000RPM तक भी देते हैं। जिस DEVICE का RPM जितना ज्यादा रहेगा उसका स्पीड डाटा ट्रांसफर का उतना ही तेज होगा। और इसका स्टोरेज Capacity बढ़ाने के इनके प्लेट की संख्या बढ़ता जाएगा । इसमें मोटर लगा होता मैगनेटिक प्लेट्स को घुमाने के लिए इसीलिए ये थोड़ा बहुत कंपन भी करता है जिसके फलस्वरूप इसमें थोड़ा सा साउंड भी उत्पन होता है ।

हार्ड डिस्क ड्राइव में कौन से डाटा केबल लगता है ?
HDD में डाटा ट्रांसफर करने के लिए SATA और PATA दोनों तरह के केबल इससे होकर मदरबोर्ड में जुड़े होते हैं।

👉क्या होता है Operating System ? OS की सम्पूर्ण जानकारी
👉सॉफ्टवेयर क्या होता है - what is software in Hindi
👉Processor Computer में क्या काम करता है

SOLID STATE DRIVE (SSD) क्या है और यह कैसी होती है ?

यह एक integrated circuit (IC) Based storage device है। यह ठीक बिल्कुल उसी तरह है जैसे हमारा मेमोरी कार्ड या पेन ड्राइव होता है बस इसमें यह होता है कि यह साइज में बड़ा और Capacity में भी उनसे कई गुना ज्यादा होता है।

आइए थोड़ा बहुत इसके इंटरनल हिस्से यानी भीतरी हिस्से के बारे में जान ले आखिर यह कैसे काम करता है?

SSD डाटा स्टोर करने के लिए सेमीकंडक्टर सेल का यूज करता है इसमें लगा एक सेल 1 और 4 Bit का डाटा Contain करता है। इसका महतवपूर्ण पार्ट इसमें लगा Controller होता है जिसका Work ठीक HDD मे लगे के Head की तरह है। यह भी डाटा को मैनेज करता है कौन सा डाटा कहां पर स्टोर या Read Or Write करना है।
Image source - wikipedia
इसमें लगे होते हैं NAND सर्किट जो कि इसको Non-volatile बनाते हैं इसमें भी कंप्युटर का पावर ऑफ होने पर इसमें भी रखा सारा डाटा सुरक्षित रहता है। चुकीं इसमें कोई प्लेट्स नहीं होते इसलिए इसमें किसी तरह का कोई मोटर नहीं होता और यह ना ही साउंड और कंपन भी नहीं करते है ।

History of SOLID STATE DRIVE( SSD ) और यह कैसी स्टोरेज डिवाइस है ?

SSD FLASH BASED STORAGE DEVICE है। पहली बार FLASH BASED MEMORY को Fujio Masuoka ने Toshiba Company में 1980 में किया था और Cammercialized TOSHIBA कंपनी ने 1987 में इसे लांच किया था। SANDISK कॉर्पोरेशन के फाउंडर अली हरारी और संजय मल्होत्रा ने देखे कि इसमें बहुत से पोटेंशियल है इन्होंने हार्ड ड्राइव को FLASH BASED बनाना स्टार्ट कर दिया 1989 में तब से SSD का कांसेप्ट सबके सामने आया।

अब तक हम लोगों ने HDD और SSD के बारे में थोड़ी सी जानकारी ली अब आइए इन दोनों में क्या अंतर है और कौन सा बेहतर है आपके लिए इसके बारे में एक नजर डालते हैं।

HDD OR SSD Which is better - अपने कंप्यूटर या लैपटॉप में क्या लगाए ?

HDD OR SSD For Laptop :- अगर आप एक Laptop खरीदने वाले है तो रुकिए आपको खरीदने से पहले इस बात को जान लेना जरुरी है की आप जो लैपटॉप खरीदने जा रहे है, उस में आपको कौन कौन से डिवाइस मील रहे खासकर उसमे कौन सा Storage Device लगा है। क्योकि यह हमारे सिस्टम के महत्पूर्ण अंग है इसमें हमारे सारे जरुरी के जानकारी डाटा के रूप में सुरक्षित रहता है। जरुरत पड़ने पर हमको उसको एक्सेस करना पड़ सकता है। इसलिए इसको नज़रअंदाज हम नहीं कर सकते है। हमको चाहिए हमारे लिए अच्छा सा स्टोरेज डिवाइस अगर आप अफोर्ट कर सकते है तो आप वैसा ही लैपटॉप ले जिसमे SSD वाला ही स्टोरेज डिवाइस हो क्युकी खास कर लैपटॉप के लिए रहता है। ऐसा इसलिय क्युकी कोई हीट और न ही साउंड पैदा करता है और यह HDD के मुकाबले भी होता है।

HDD vs SSD Which is Best According To Speed in Hindi

दोस्तों अगर हम इन दोनों तरह के स्टोरेज डिवाइस के स्पीड के नज़रिये से देखे तो जाहिर सी बात है SSD की स्पीड HDD के मुकाबले ज्यादा होगी
HDD की रेंज 0.1 To 2.7 MBPS(Megabytes per Second MB/S) औसतन होता है।
SDD की रेंज 50 To 150 MBPS(Megabytes per Second MB/S) औसतन होता है।
तो आपने देखा कितनी अंतर है बिच तो आपको स्पीड के मामले में तो सॉलिड स्टेट ड्राइव ही लेनी चाहिए। SSD Also Best For Programming And Long Term Storage जो लोग प्रोग्रामिंग करते है वो अच्छे से जानते है स्पीड उनके लिए कितना मैटर करता है और इसकी लाइफ जयदा होती है हार्ड ड्राइव से कई गुना ज्यादा 

SSD vs HDD Which is Best According To Price in Hindi

वो कहते है न अच्छा चीज़ की कीमत होती है ठीक वैसे ही हार्ड डिस्क ड्राइव आपको सस्ती मिलेगी सॉलिड स्टेट ड्राइव के मुकाबले क्युकी ये टेक्नोलॉजी पुरानी हो गयी है और SSD टेक्नोलॉजी अभी नई है।
अगर आप 500 GB का SSD लेने जायेंगे तो आपको लगभग ₹6000 तक देना पड़ सकता है वही आप अगर 500 GB का HDD लेने जायेंगे तो आपको 1500 - 2000 तक आराम से मिल जायेगा।


आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा आप हमे कमेंट सेक्शन में जरूर बातये अगर कुछ कमी रह गयी तो वो भी बातये। आपके बहमूल्य समय देने के लिए धन्यवाद !!

1 Comments

Post a Comment
Previous Post Next Post